स्वस्थ ‘पानी पुरी’ को पेश करते हुए

Short Description
‘चटर पटर’ के मालिक और निदेशक प्रशांत कुलकर्णी के साथ एक वार्तालाप।
  • Nusra Deputy Features Editor
Restaurant India

एक कोडिंग सॉफ्टवेअर पेशेवर से पानी पुरी बेचने तक, कुलकर्णी बताते हैं कि कैसे भारत के सबसे पसंदीदा स्ट्रीट फूड्स में से एक बेचने की कल्पना उनके मन में आई और उसी के साथ अपना व्यवसाय विदेश ले जाने के सपने के बारे में भी साझा करते हैं 

गोता लगाना

मुझे पहले से पता था कि 9-5 की नौकरी मेरे बस की बात नहीं है। मैं व्यवस्था का भाग नहीं बन सकता। मैं इन्फोसिस ग्रुप के साथ काम कर रहा था, लेकिन मैं हमेशा खुद का बॉस बनना चाहता था। इसीलिए मैंने संगठन छोड़ा और 2011 में चटर-पटर की शुरूआत की।

इन्फोसिस के साथ काम करते हुए, मैं अक्सर रस्ते किनारे पानी पुरी खाता था और ऐसे ही एक दिन खाने के बाद, मैं फूड पॉइज़निंग से बीमार हो गया, जिसके बाद लगभग 3-4 महीने तक मैंने उसे हाथ तक नहीं लगाया। तब मुझे इस बात का एहसास हुआ कि कई ऐसे लोग होंगे, जो इसी तरह के अनुभव से गुजरते होंगे और फिर मैंने इस स्वास्थ्य के मामले को लेकर कुछ करने का सोचा। मैंने ‘ऑर्कुट’ के द्वारा ऑनलाइन फॉर्म सर्क्युलेट कर एक ऑनलाइन सर्वे किया और पाया कि सबसे अधिक बिकने वाला उत्पाद होने के बावजूद किसी भी ब्रांड नेम के तहत पानी पुरी बेचने वाला कोई भी ब्रांड मौजूद नहीं था। फिर वह विचार मेरे मन में आया और पक्का बनता गया। आज, हम विश्व के पहले पानी पुरी ब्रांड ‘गपागप’ के मालिक हैं और 112 स्वादों में उसे दे रहे हैं।

स्वस्थ पानी पुरी बनाना

पानी पुरी बनाना आम तौर पर अस्वच्छ और अस्वास्थ्यकारी माना जाता है, लेकिन ‘गपागप’ के बाद भारतीय जनता स्वस्थतम पानी पुरी खा सकती है। हम शुद्धिकरण किया हुआ पानी इस्तेमाल करते हैं और उपयोग में लाए गए सारे पदार्थ सैकरिन, टैट्री और साइट्रिक एसिड तथा अन्य हानिकारी रसायनों से मुक्त होते हैं।

मेन्यू की रचना

हम पूरे भारत में जो 112 स्वाद बेचते हैं, उन सबका मानकीकरण  करते हैं। हम सब कुछ इंदौर से पैक करते हैं और फिर वह सब, भारत के विभिन्न स्टोर्स में जाता है और अलग-अलग शहरों में उसी स्वाद के साथ परोसे जाते हैं।

जब हम मेन्यू की रचना करने की प्रक्रिया में थे, तब हमने यह सुनिश्चित किया था कि परिवार के हर सदस्य के लिए उसमें कुछ न कुछ हो। उदाहरण के लिए, परिवार का हर सदस्य पिज़्ज़ा या बर्गर खा नहीं सकता, लेकिन हर कोई चाट और पानी पुरी खा सकता है। हम पूरे परिवार के लिए समय बिताने का एक स्थान बनाना चाहते थे। हमारे पास अलग-अलग प्रकार की भेल, चाट और पेय हैं। हमारा लगभग 80% मेन्यू अद्वितीय है और हमने स्वयं उनमें से ज्यादातर डिशेस का निर्माण किया है।

व्यवसाय को फ्रैंचाइज़ करना

हमने 2012 के जुलाई से फ्रैंचाइज़ करना शुरु किया। हमारा उत्पाद किसी एक स्टोर या एक शहर में संचालन से ज्यादा योग्यता रखता है। फ्रैंचाइज़ी का रास्ता बेहतर पानी पुरी (गपागप) खाने के लिए योग्य लोगों तक पहुंचने के लिए सबसे तेज रास्ता है। पानी पुरी ब्रांड के सबसे तेज बढ़ते नेटवर्क से जुड़ने के लिए हमें जोश और जुनून रखने वाले भागीदारों की तलाश है। आज तक, हमें लगभग 150 एनक्वाइरीज प्राप्त हुई हैं। हम 2014 के जून तक 32 स्टोर्स शुरु करेंगे ऐसी उम्मीद है। ग्लोबल जाना हमारा लक्ष्य है। असल में हमें यूके और ऑस्ट्रेलिया से भी दो-एक लोगों ने पूछा है, लेकिन विदेशों में विस्तार करने से पहले हम भारत में अपने पैर मजबूती से जमाना चाहते हैं। 

Not Sponsored
Home Title
स्वस्थ ‘पानी पुरी’ को पेश करते हुए
अभी पढ़ रहे लोग

यह स्टार्ट-अप एक अंतर्राष्ट्रीय बिरयानी श्रृंखला बनने पर कैसे काम कर रहा है ।

1Min Read
आपके लिए अनुशंसित